FANTASTIC FOUR — Shankar Jaikishan Shailendra Hasrat

लेखक : सुधाकर शहाणे ‘दो भटकते राही – ‘शंकर – जयकिशन’, आ मिले मंज़िल पर – चंद्रवदन भट ऑफीस, मायानगरी बंबई, दो दिलों की कश्ती आ लगी साहिल पर – ‘पृथ्वी थिएटर्स’, मुस्कुराते जागे एक संग दो मुक़द्दर’ – राज साहब की फ़िल्म ‘बरसात’ में स्वतंत्र संगीत निर्देशन का मौका … फिर … ‘२१ अप्रेल… Read More FANTASTIC FOUR — Shankar Jaikishan Shailendra Hasrat