Monthly Archives: August 2019

चले जाना ज़रा ठहरो किसी का दम निकलता है

By

महान मुकेश की पुण्य तिथि २७ अगस्त पर विशेष

गायक मुकेश के उपलब्ध गीतों को प्रायः हम जिस रूप में अब तक सुनते आए हैं उनमें से कुछ गीत ऐसे भी हैं जो मूल रूप से एकल स्वर में रेकार्ड किए गए थे पर फ़िल्म में उसे कथानक अथवा दृश्य के आवश्यकतानुसार किसी अन्य रूप में प्रस्तुत किया गया है। फ़िल्म संगीत पर किए जा रहे अपने अनवरत शोध प्रक्रिया के अन्तर्गत मुझे ऐसे ढेरों गीत भी मिले जो उपलब्ध तथा प्रचलित गीत में निहित सामग्री के विपरीत अपना पृथक और स्वतन्त्र रूप लिए हुए थे। ऐसे भिन्न प्रकृति के गीतों में किसी गीत में अतिरिक्त अन्तरा है तो कोई गीत एकल स्वर में है या किसी गीत में सह गायक-गायिका का स्वर उपलब्ध गीत से पृथक है।


चले जाना ज़रा ठहरो https://www.youtube.com/watch?v=N6SjKNKnmII इसी प्रकृति का एक विशेष गीत है।


शंकर-जयकिशन के संगीत में ढला फ़िल्म ‘अराउंड द वर्ल्ड’ (१९६७) का गीत ‘चले जाना ज़रा ठहरो किसी का दम निकलता है, ये मंज़र देख कर जाना, चले जाना’ भी इसी श्रेणी का एक गीत है। फ़िल्म तथा रेकार्ड पर यह गीत मुकेश और शारदा के युगल स्वरों में है जबकि पूर्व की परिकल्पना के अनुसार इस गीत को मुकेश के एकल स्वर में रेकार्ड किया गया था। फ़िल्म में जब आप इस गीत के फ़िल्माँकन पर ध्यान देंगे तो मेरी तरह ही सम्भवतः आपके मन-मस्तिष्क में भी यह विचार कौंधे कि फ़िल्म के दृश्य में जाने का हठ तो नायिका कर रही है परिणामस्वरूप नायक उसे रूक जाने का आग्रह करते हुए गा उठता है – ‘चले जाना ज़रा ठहरो किसी का दम निकलता है’। पर, इस दृश्य में जब नायिका के मुख से ‘चले जाना ज़रा ठहरो’ का बोल फूटता है तो कुछ अटपटा सा लगता है। नायक राज कपूर तो कहीं नहीं जा रहे थे, वो तो नायिका राजश्री थीं जो जाने को उतावली थी, ऐसे में उन्हें नायक राज को क्यों रूकने को कहना पड़ रहा था। फ़िल्म की कहानी में इसी कारण से ही मूल कहानी के दृश्य के अनुरूप यह गीत मुकेश के एकल स्वर में रेकार्ड किया गया था।


अब मैं अपने शोध तथा निजी सम्पर्क के सूत्रों से उपलब्ध सूचना के आधार पर इस गीत के पार्श्व की कथा से सम्बन्धित एकत्रित की गयी सामग्री के परिप्रेक्ष्य में इस गीत के एकल से युगल बनने की कहानी आपको बताता हूँ। शंकर-जयकिशन अपने संगीत से किसी भी कथानक या दृश्य का परिदृश्य बदलने में किस प्रकार सिद्ध हस्त थे उसका भी एक रूप इस गीत में आपको दिखेगा। गायिका के रूप में तब शारदा ने शंकर-जयकिशन के संगीत में आते ही लोकप्रियता के शीर्ष का वरण कर लिया था। शारदा राज कपूर के आमन्त्रण पर ही भारतीय सिने गीत-संगीत जगत में आयी थीं और उन्हें सिने गायकी में पारंगत करने का दायित्व राज ने शंकर-जयकिशन को सौंपा था। मुकेश के साथ इस गीत का अभ्यास (रिहर्सल) पूर्ण कर लेने के पश्चात् शंकर-जयकिशन के संगीत कक्ष में जब इसे रेकार्ड किया जा रहा था तब राज कपूर और इसके गीतकार हसरत जयपुरी भी वहाँ उपस्थित थे। गीत के रेकार्ड हो जाने के बाद राज ने यूँ ही बातों-बातों में कह दिया, इस पूरे गीत में मेरे साथ राजश्री कुछ नहीं बोलेंगी? जयकिशन तो चुप रहे पर शंकर बोल उठे, क्यों नहीं, हसरत मियाँ आप कुछ लिखिए तो हम देखते हैं। फिर क्या था, हसरत जयपुरी ने गीत के लिए कुछ और अन्तरे लिख दिए। शंकर ने शारदा को ध्यान में रख कर दो और अन्तरों को गीत में समायोजित किया और कुछ दिन बाद मुकेश का यह एकल गान शारदा के संग मिल कर युगल गीत बन गाया।


अब मेरे लिए मुकेश के गाए इस मूल एकल गीत को प्राप्त करने की चुनौती थी। अपने सम्पर्कों में मैंने कोलकाता के अपने पुरातन पारिवारिक मित्र भाई कमल बेरीवाला से कहा तो उन्होंने छूटते ही कहा कि मेरे पास वो मूल गीत है पर मुझे समय दीजिए ताकि मैं उसे अपने संग्रह से ढूँढ कर निकाल सकूँ। इस कार्य में कोलकाता के ही हमारे संगीत प्रेमी मित्र भाई अनूप गड़ोदिया का भी सहयोग मिला जिसके लिए मैं भाई कमल के साथ-साथ उनका भी विशेष आभार व्यक्त करता हूँ।


आप सभी संगीत प्रेमियों के समक्ष आज गायक मुकेश की पुण्य तिथि के अवसर पर यह गीत यहाँ उपलब्ध है जिसे आप यू ट्यूब के इस लिंक पर सुन कर अपनी सुरीली प्रतिक्रिया से हमें अवगत करा सकते हैं। मैं यहाँ यह स्पष्ट कर दूँ कि इस गीत पर किए गए शोध के लिए आप मेरा आभार व्यक्त करें या न करें पर इस दुर्लभ गीत को उपलब्ध कराने का सम्पूर्ण श्रेय भारत के वरिष्ठ रेकार्ड संग्रहकर्ता भाई कमल बेरीवाला Kamal Beriwala को ही जाता है जिस हेतु आप सीधे उनको ही अपना धन्यवाद ज्ञापित कर सकते हैं। पूर्व में भी समय-समय पर कमल भाई हमें दुर्लभ गीतों का उपहार देते आए हैं। उनका आभार एवं धन्यवाद !
डॉ राजीव श्रीवास्तव 
गीत का सूत्र (लिंक) https://www.youtube.com/watch?v=N6SjKNKnmII
[गीत: चले जाना ज़रा ठहरो, फ़िल्म: अराउंड द वर्ल्ड (१९६७), गीतकार: हसरत जयपुरी, संगीतकार: शंकर-जयकिशन, गायक: मुकेश, शारदा]

by Raajeev Shrivaastav

A gift to Shankar Jaikishan fans

Image may contain: 2 people, people smiling

महान संगीतकार शंकर-जयकिशन का यह व्यक्तिचित्र (पोर्ट्रेट) विश्व विख्यात वरिष्ठ चित्रकार प्रो. एस. प्रणाम सिंह Pranam Singh ने मेरी शीघ्र प्रकाशित होने वाली आगामी पुस्तक ‘सात सुरों का मेला’ हेतु विशेष रूप से अपनी तूलिका से गढ़ा है. उनका हार्दिक आभार एवं आत्मिक धन्यवाद !

Advertisements

Shanker Jaikishen Binaca Geetmala Annual Billboard Chart of SJ Songs-Part 2

By

Pashambay Baloch's Profile Photo, Image may contain: one or more people


Pashambay Baloch

Page one of this data by Pashambay Baloch, Karachi
Page two of this data by Pashambay Baloch, Karachi
Page three of this data by Pashambay Baloch, Karachi
Page four of this data by Pashambay Baloch, Karachi
Page five and last of this data by Pashambay Baloch, Karachi

BINACA GEET MALA ANNUAL BILLBOARD CHART OF SHANKAR JAIKISHAN SONGS Statistics

by

Pashambay Baloch

BINACA GEET MALA ANNUAL BILLBOARD CHART OF SHANKAR JAIKISHAN SONGS Statistics

FILMS

  • Total films of Shankar Jaikishan 171 ( out of which 79 films songs broadcast/played in Binaca)
  • Less: Films of pre Binaca(1949-52) 8
  • Films whose song played in Binaca 79 (48.50%)
  • SONGS Total Hindi songs composed by SJ 1276
  • Less: Songs of pre Binaca (1949-52) 69
  • Total songs played in Binaca 134 (10.52%)
  • Maximum songs of a film played 5(JDMGBH)
  • Number One songs (Binaca Rating) 6
  • Number 2 to 10 (Binaca Rating) 52
  • Number 11 to 20 (Binaca Rating) 37
  • Number 21 to 32 (Binaca Rating) 39
  • Maxmium songs played in a year 14 (1959)
  • Songs of decade 1950s 34
  • Songs of decade 1960s 82
  • Songs of decade 1970s 18
  • Songs of decade 1980s 0
  • No song played in Binaca in years 1954, 1973, 1974, 1976-87

SINGERS

  • Lata Mangeshkar 36 songs
  • Mohammed Rafi 34
  • Mukesh 19
  • Lata Mangeshkar & Mukesh 8
  • Lata Mangeshkar & Manna Dey 6
  • Kishore Kumar 5
  • Asha Bhosle & Kishore Kumar 4
  • Lata Mangeshkar & Mohammed Rafi 4
  • Suman Kalyanpur & Mohd Rafi 3
  • Asha Bhosle 2
  • Asha Bhosle & Mohammed Rafi 2
  • Manna Dey 2
  • Subir Sen 2
  • Lata Mangeshkar & Hemant Kumar 1
  • Lata Mangeshkar & Subir Sen 1
  • Mubarak Begum & Mohammed Rafi 1
  • Sharda 1
  • Sharda & Mukesh 1
  • Talat Mahmood 1
  • Asha, Kishore & Mukesh 1

LYRICIST

  • Hasrat Jaipuri 68 songs
  • Shailendra 52
  • Neeraj 4
  • Vineshavar Sharma 2
  • Verma Malik 3
  • Rajinder Krishan 2
  • Anand Bakshi 2
  • Dev Kohli 1

compiled by Pashambay Baloch Karachi – 01 January 2015 PB: